डिजिलॉकर (DigiLocker) क्या है, डिगीलॉकर कैसे काम करता है।

आज हर जगह पर डिजिलॉकर (DigiLocker) क्या है, डिगीलॉकर कैसे काम करता है, इसके बारे मै चर्चा है। जब आप अपने काम के लिए कही बाहर जाते है, और आपके पास डॉकयुमेंट नहीं है, तो आपको वापस आके डॉकयुमेंट लेने की जरूरत नहीं है। 

भारत सरकार नै डिजिलॉकर ये एक ऐसा प्लैटफ़ार्म बनाया है, उसमे आप उस डॉकयुमेंट को इशू करके दिखा सकते है। ऑनलाइन इशू किया हुवा डॉकयुमेंट को कानूनी रूप से मूल दस्तावेज़ के बराबर माना जाता है। 

डिजीलॉकर (DigiLocker) को 2015 मै पूरी सिस्टम को पेपर लेस बनाने के लिए सुरू किया गया है। 

हम नीचे डिजिलॉकर (DigiLocker) क्या है, डिगीलॉकर कैसे काम करता है। डिजीलॉकर का उपयोग कैसे करे, इसके फायदे क्या है। इसने बारे मै डीटेल मै देख लेंगे। 

डिजिलॉकर (DigiLocker) क्या है

डिजिलॉकर (DigiLocker) क्या है। (What is DigiLocker in Hindi)

Digi यानी की डिजिटल लॉक। डिजिलॉकर (DigiLocker) ये एक ऐसा डिजिटल प्लैटफ़ार्म है, जहा पर आप ऑनलाइन डॉकयुमेंट को स्टोर या इशू कर सकते है। 

डिजिलॉकर का उद्धेश पेपर लेस सिस्टम बनाना है, और सरकारी कामो मे गती लाना है। 

डिजिलॉकर (DigiLocker) की सुरवात भारत के संचार एवं आईटी मंत्रालय की शाखा इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्मोगिकी विभाग (डीईआईटीवाई) ने जुलाई 2015 में डिजिटल लॉकर का बीटा संस्करण जारी किया है। इस संस्करण का नाम डिजीलॉकर रखा गया था।

डिजिलॉकर पे आप ऑनलाइन डॉकयुमेंट पैन कार्ड, आधार कार्ड, अपनी इन्शुरेंस पॉलिसी , ड्राइविंग Liscene, 10 & 12th के मार्क शीट, वोटर आईडी, LIC पॉलिसी के डॉकयुमेंट, यादी को आप इशू कर सकते है, और ये डॉकयुमेंट आप किसी सरकारी काम के लिए दिखाएंगे तो उसे valid माना जाता है। 

डिजिलॉकर (DigiLocker) क्या है

डिजिलॉकर पर आप डॉकयुमेंट को इशू करने के साथ ही अपने भी डॉकयुमेंट को स्टोर कर के रख सकते है। जैसे की अपने मार्क शीट, फोटो, कास्ट सर्टिफिकेट, domicile सर्टिफिकेट यादी।

डिजिलॉकर का उपयोग का https://www.digilocker.gov.in/ इस वैबसाइट पर जाके या आप इसे मोबाइल मै DigiLocker का एप्लिकेशन डाउनलोड करके कर सकते है। आपको इसमे 1GB तक का डाटा स्टोर किया जा सकता है।  

डिजीलॉकर (DigiLocker) कैसे काम करता है। (How does DigiLocker work in Hindi)

डिजिलॉकर का इस्थमाल करने के लिए आप https://www.digilocker.gov.in/ इस वैबसाइट और मोबाइल मै इसे एप्लिकेशन को डाउनलोड करके इस्थमाल कर सकते है। आपका मोबाइल नंबर आधार कार्ड से लिंक है तो आप इसे OTP के जरिये अपना अकाउंट बना कर सुरू कर सकते है। 

डिजिलॉकर पर आप जीतने भी गवर्नमेंट, प्राइवेट कंपनी, Exam बोर्ड, गॅस एजन्सि, इन्शुरेंस कंपनी रजिस्टर है, जिसमे आपका हर एक डाटा लिंक किया हुवा है। 

आपने LIC की पॉलिसी ली हुई है, और इसका डॉकयुमेंट या पैसे भरे हुई स्लिप की बिल आपको एमर्जन्सि मै चाहिए किसी सरकारी काम के लिए तो आप इसे डिजिलॉकर से इशू कर सकते है। इसे इशू करने के लिए आपको पॉलिसी नंबर और डेट ऑफ बर्थ की जरूरत पड़ती है। 

वैसे ही आप अपना ड्राइविंग license, इन्शुरेंस पॉलिसी के डॉकयुमेंट, आपने marksheet, डिग्री सर्टिफिकेट, गॅस कनैक्शन के डॉकयुमेंट, पैन कार्ड, आधार कार्ड, वोटर आईडी, यादी डॉकयुमेंट को इशू करके डिजिलॉकर पर सेव करके रख सकते है। 

डिजिलॉकर पर इशू किए हुये डॉकयुमेंट प्राइवेट और सरकारी कामो के लिए वैध माने जाते है, इसके लिए आपके पास वोरिजिनल डॉकयुमेंट नहीं है, तो आप डिजिलॉकर के डॉकयुमेंट का उपयोग कर सकते है। 

इसके साथ ही आपके पास कुछ और डॉकयुमेंट है, जैसे की अपनी फोटो, डिजिटल सही, कास्ट सर्टिफिकेट, marksheet, पैन कार्ड, आधार कार्ड, इन्शुरेंस पॉलिसी के डॉकयुमेंट आप खुद डिजिलॉकर के ड्राइव पर अपलोड करके रख सकते है। 

डिजिलॉकर ये एक सेफ और गवर्नमेंट के ध्वारा सुरू किया हुवा प्लैटफ़ार्म है, इसिलिए इसमे हर एक डॉकयुमेंट को सुरूक्षित रखा जा सकता है। 

डिजिलॉकर (DigiLocker) का उपयोग कैसे करे। (How to use DigiLocker in Hindi)

डिजिलॉकर का उपयोग करने के लिए सबसे पहिले आपको इसमे अकाउंट बनाना पड़ेगा, और अकाउंट को बनाने के लिए आप मोबाइल से प्ले स्टोर से डिजिलॉकर का एप्लिकेशन को डाउन लोड कर सकते है, नहीं तो आप https://www.digilocker.gov.in/ इस वैबसाइट के जरिये अपना अकाउंट को बना सकते है। 

अकाउंट को बनाने के बाद आपको जिस डॉकयुमेंट की जरूरत है, उसे डाउनलोड करने के लिए इशू डॉकयुमेंट के ऊपर जाना पड़ेगा, उसके बाद आपको कोनसा डॉकयुमेंट डाउनलोड करना है, इसे आपको सर्च करना पड़ेगा। 

पैन कार्ड को डाउनलोड करना है, तो सर्च मै पैन कार्ड डाल को डालके सर्च करे, इसके बाद आप अपना पैन कार्ड नंबर, पैन कार्ड के ऊपर अपना नाम डालके गेट डॉकयुमेंट के ऊपर क्लिक करे। उसके बाद 1 मिनट के अंदर डॉकयुमेंट आपके इशू डॉकयुमेंट मे एड़ हो जायगा। इसे आप डाउनलोड भी कर के रख सकते है। 

वैसे ही आपको LIC के पॉलिसी के डॉकयुमेंट को चाहिए तो आप Life Insurance Corporation को सर्च करके अपनी जन्म तारीख, अपनी पॉलिसी नंबर को डालके इसे डाउन लोड कर सकते है। 

इस तरह से आप अपने 10th, 12th के मार्कशीट, डिग्री सर्टिफिकेट, डिप्लोमा सर्टिफिकेट, वोटर आईडी, ड्राइविंग License, इन्शुरेंस पॉलिसी, Covid Certificate,  यादी के डॉकयुमेंट को इशू करके रख सकते है, और आपको किसी काम के लिए इन डॉकयुमेंट की जरूरत पड़ी तो इसे आप दिखा सकते है। 

डिजिलॉकर (DigiLocker) पर अकाउंट कैसे बनाये। (How to create account on DigiLocker in Hindi)

डिजिलॉकर (DigiLocker) के ऊपर आपको अकाउंट को बनाने के लिए नीचे कुछ टिप्स दिये है। 

डिजिलॉकर (DigiLocker) क्या है

  • डिजिलॉकर पर अकाउंट को बनाने के लिए आपको https://www.digilocker.gov.in/ वैबसाइट या उसने मोबाइल के एप्लिकेशन को प्ले स्टोर से डाउन लोड करना होगा। 
  • उसके बाद आप साइन उप के ऊपर क्लिक करके अपना नाम, जन्म तारीख, मोबाइल नंबर, Gender, मोबाइल नंबर, आधार कार्ड का नंबर,  ईमेल आईडी को डालके 6 अंकी डिजिटल पिन को सेट करके सबमिट के ऊपर क्लिक करे।
  • उसके बाद अपना मोबाइल नंबर डालके लॉगिन करे। 
  • लॉगिन करने के बाद आपको उजर नेम सेट करने को कहा जायगा, आप अपने हिसाबसे उसे सेट करके इसका इस्थमाल करना सुरू कर सकते है। 

डिजिलॉकर (DigiLocker) के फायदे (Benefits of DigiLocker in Hindi)

1. महत्वपूर्ण दस्तावेज़ को आप कभी भी, कहीं भी इस्थमाल कर सकते है। 

2. डिजिलॉकर से आप जो भी डॉकयुमेंट को इशू करेंगे उसे प्रामाणिक दस्तावेज़, कानूनी रूप से मूल दस्तावेज़ के बराबर माना जायगा। 

3. नागरिक की सहमति से डिजिटल दस्तावेज़ विनिमय किया जायगा। 

4. सरकारी कामो मै, हैल्थ, रोज़गार, वित्तीय समावेशन, शिक्षा इनमे आपका काम जलद हो जायगा। 

5. गवर्नमेंट के ऊपर का लोड कम हो जायगा, और सरकारी कार्यालय मै बीना पपैर का काम करने मै मदत मिलेगी। 

6. सरकारी कामो मै आप सही, आरिजिनल और रियल टाइम डॉकयुमेंट को जमा कर सकेंगे। 

7. डिजिलॉकर पर आपके डॉकयुमेंट सुरक्षित रख सकंगे। 

8. आपके डॉकयुमेंट का रियल टाइम Verification किया जायगा। 

About The Author

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top