पीपीएफ अकाउंट के बारे में जानकारी | PPF Account ke bare Mein Jankari

पीपीएफ़ ये एक पुरानी स्कीम है, जो भारत सरकार ध्वारा चलायी जाती है। और जो लोग इंकम टैक्स मै छूट और फिक्स रिटर्न चाहते है, इसके लिए ये के अच्छी स्कीम है।

पीपीएफ़ मै आप 15 साल तक निवेश कराते है तो आपको 42 लाख रुपए तक की राशी टैक्स फ्री मिलती है, जो आप अपनी रिटायरमेंट, बच्चो की शादी, पढ़ाई के लिए इस्थमाल कर सकते है। 

आप 500 रुपये से पीपीएफ़ का अकाउंट सुरू कर सकते है, और ये अकाउंट ऑनलाइन या ऑफलाइन के जरिये आसानीसे ओपेन कर सकते है।

नीचे हमने पीपीएफ अकाउंट के बारे में पूरी जानकारी ( PPF Account ke bare Mein Jankari) दी है जो की आपको पूरी तरह से मिलेगी। और अपना अकाउंट आप खुद सुरू करने का डिसिशन आप ले सकते है।

PPF Account ke bare Mein Jankari

Table of Contents

पीपीएफ अकाउंट के बारे में जानकारी  ( PPF Account ke bare Mein Jankari)

PPF का अर्थ है पब्लिक प्रोविडेंट फ़ंड इसकी सुरवात 1968 मै हुई थी, और आज तक चल रही है। पीपीएफ़ ये एक लघुतम बचत योजना है, इसमे आप हर साल 500 रुपये से लेकर 1.5 लाख रुपए तक जमा कर सकते है।

पीपीएफ़ मै आपको चालू वित्तीय वर्ष मै जुलाई से सितंबर मे भारत सरकार ने इसपर 7.1% ब्याज देने की घोषणा की है। जो ब्याज दरे हर तिमाही मै समीकशा करके कम ज्यादा किए जाते है।

WordPress Responsive Table

पीपीजी मै निवेश किए हुये पैसे को आप इंकम टैक्स 80C के अंडर 1.5 लाख रुपए तक की छूट ले सकते है। और आप पीपीएफ़ मै सालाना 1.5 लाख के ऊपर निवेश नहीं कर सकते।

पीपीएफ़ का अकाउंट अकाउंट आप पोस्ट ऑफिस, राष्ट्रीय बैंक यहा पे 500 रुपए देके कोई भी नागरिक खुलवा सकता है। इस अकाउंट 15 साल तक सुरू रहता है। इसमे आप कई करनवर्ष के अलावा पैसे निकाल नहीं सकते। 15 साल पूरे होने पर चाहे तो आप और 5 साल के लिए अकाउंट की अवधी बढ़ा सकते है।

पीपीएफ़ अकाउंट सुरू करने वाले बैंक 

पीपीएफ़ हे एक ऐसी योजना है जो आपको 15 साल के बाद आपको एक अच्छा राशी देती है, जो की आप अपने रिटायरमेंट, बच्चे की पढ़ाई, शादी, यादी के लिए काम आती है।

पीपीएफ़ का अकाउंट आप कहा और कोनसे बैंक मै खुलवा सकते है ये जान लेते है।

1. भारत मै आप कोनसे भी पोस्ट ऑफिस मै पीपीएफ़ का अकाउंट खुलवा सकते है।

2. इन बैंक मै पीपीएफ़ का अकाउंट खुलवा सकते है।

  • आईसीआईसीआई बैंक
  • एसबीआई बैंक
  • एचडीएफ़सी बैंक
  • इंडियन ओवर्सीस बैंक
  • एक्सिस बैंक
  • आईडीबीआई बैंक
  • बैंक ऑफ बरोदा
  • पंजाब नेशनल बैंक
  • कॉर्पोरेशन बैंक
  • ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स
  • बैंक ऑफ इंडिया
  • स्टेट बैंक ऑफ बीकानेर एंड जयपुर
  • स्टेट बैंक ऑफ हैदराबाद
  • इलाहाबाद बैंक
  • सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया
  • केनरा बैंक
  • यूनियन बैंक ऑफ इंडिया
  • इंडियन बैंक
  • यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया
  • देना बैंक
  • विजया बैंक
  • बैंक ऑफ महाराष्ट्र
  • स्टेट बैंक ऑफ पटियाला
  • स्टेट बैंक ऑफ त्रावणकोर
  • स्टेट बैंक ऑफ मैसूर

ऊपर दिये हुये कोनसे भी बैंक आप जाके पीपीएफ़ का अकाउंट खुलवा सकते है। यदी आप ऑनलाइन बैंकिंग का उपयोग कराते है, तो पीपीएफ़ का अकाउंट ऑनलाइन तरीकेसे खुलवा सकते है।

पीपीएफ अकाउंट के नियम (PPF account ke niyam hindi)

1. पीपीएफ़ का अकाउंट का लॉक इन पीरियड 15 साल का है, यानी 15 साल तक आप इसमे पैसे को निकाल नहीं सकते। 

2. 15 साल पूरे होने के बाद आप चाहे तो अकाउंट का अवधी 5 साल तक बढ़ा सकते है।

3. कोई एमर्जन्सि मै आप 5 साल होने के बाद पीपीएफ़ मैसे पैसे को निकाल सकते है।

4. पीपीएफ़ मै आपको अभी के टाइम 7.1% की दर से ब्याज दिया ज्याता है, और ये ब्याज हर महीने को calculate किया ज्याता है। हर महीने 5 तारिक से पहिले पैसे को जमा कराते है तो आपको उसी महीने का ब्याज मिलता है, वरना नहीं मिलता।

5. पीपीएफ़ मै आप चाहे जितना पैसे को जमा नहीं कर सकते, आपको हर साल पीपीएफ़ मै 500 से 1.5 लाख रुपए जमा करने की छूट दिया गया है।

6. पीपीएफ़ का अकाउंट 18 साल के ऊपर हा हर कोई नागरिक खुलवा सकता है, एक आदमी एक के नाम सिर्फ 1 ही अकाउंट खुलवाया जा सकता है।

7. पीपीएफ़ मै निवेश किए हुये पैसे को आप इंकम टैक्स मै छूट ले सकते है।

8. माता/ पिता अपने नाबालिक बच्चे के अकाउंट खुलवा सकते है।

9. पीपीएफ़ का अकाउंट आप पोस्ट ऑफिस, कोई भी राष्ट्रीय बैंक SBI, ICICI, HDFC, यादी मै खुलवा सकते है।

10. विदेशी नागरिक को पीपीएफ़ अकाउंट खुलवाने की अनुमती नहीं है।

11. पीपीएफ़ का अकाउंट जॉइन मै आप खुलवा नहीं सकते, सिर्फ अपने बच्चे का अकाउंट जोइन्त्ली खुलवा सकते है।

12. आपका अकाउंट सुरू रखने के लिए हर साल आपको 500 रुपए जमा करना अनिवार्य है। नहीं तो आपका अकाउंट बंद हो सकता है।

पीपीएफ अकाउंट के फायदे (PPF ke fayade hindi)

1. पीपीएफ़ अकाउंट पे आप हर साल 1.5 लाख रुपये जमा कर सकते है, और 15 साल के बाद 45 लाख रुपए तक पा सकते है।

2. पीपीएफ़ मै आपको पोस्ट ऑफिस FD, RD, राष्ट्रीय बचत पत्र से ज्यादा के ब्याज दरे मिलते है। अभी के टाइम पे पीपीएफ़ मै आपको 7.1% के हिसाब से ब्याज मिल रहा है।

3. पीपीएफ़ का अकाउंट आप 500 रुपए देके पोस्ट ऑफिस और कोई भी राष्ट्रीय बैंक मै खुलवा सकते है।

4. पीपीएफ़ मै आप साल मै कितनी भी बार पैसे जमा कर सकते है, इसमे 50-50 या 100-100 रुपए भी जमा कर सकते है।

5. हर साल आपको 1.5 लाख रुपए जमा करने की छूट दी जाती है।

6. आप इंकम टैक्स के तहत पीपीएफ़ मै जमा किए हुये पैसे की 1.5 लाख रूपये तक की छूट ले सकते है।

7. पीपीएफ़ मै निवेश करने की अवधी 15 साल है, लेकिन चाहे तो आप अपना अकाउंट की अवधी 5-5 साल के लिए बढ़ा सकते है।

8. पीपीएफ़ मै मेचूरिटि के टाइम मै मिलने वाला पैसा पूरा टैक्स फ्री रहता है, आपको इसमे कोई भी टैक्स देने की जरूरत नहीं पड़ती।

9. आपको 5 साल के बाद कई कारणवर्ष अकाउंट बंद करने की सुविधा दी जाती है।

10. आपको बीच मै लोन की जरूरत हो तो पीपीएफ़ अकाउंट से लोन ले सकते है।

11. भारत का हर एक नागरिक पीपीएफ़ मै अकाउंट खुलवा सकता है, अपने नाबालिक बच्चे के अकाउंट अपने माता पिता पीपीएफ़ मै खुलवा सकते है।

12. आपको पीपीएफ़ का अकाउंट दूसरे बैंक या पोस्ट ऑफिस मै ट्रान्सफर करने की सुविधा दी जाती है।

13. पीपीएफ़ खाता धारक की मौत हो जाती है, तो वो पूरा का पूरा पैसा नॉमिनी को दिया जाता है।

पीपीएफ अकाउंट के नुकसान (PPF account ke nukasan)

1. आज के टाइम पीपीएफ़ मै आपको 7.1% के हिसाब से सालाना ब्याज मिलता है, और ये पैसा आपको 15 साल के लिए इसमे निवेश करना पड़ता है। यही आप बैंक मै एफ़डी करने गए तो इससे ज्यादा और उतना ही ब्याज कम समय के लिए आपको मिलता है।

2. पीपीएफ़ मै 15 साल के लिए आप निवेश करते है तो आपको 7.1% ब्याज मिलता है, लेकिन वही पैसा आप एनपीएस (नेशनल पेंशन स्कीम) मे डालते है तो आपको 12% तक का ब्याज मिल सकता है। और आप यही पैसा म्यूचुअल फ़ंड के जरिये एसआईपी कराते है तो आपको 15% तक का ब्याज मिल सकता है।

3. पीपीएफ़ मै आप हर साल 1.5 लाख रूपये जमा करते है तो आपको 15 साल के बाद 42 लाख रूपये मिलता है, और आप यही पैसा म्यूचुअल फ़ंड के जरिये एसआईपी करते है तो आपको 80 लाख रूपये तक का रिटर्न मिलता है। ये रिटर्न पीपीएफ़ से बहुत ही ज्यादा है।

4. पीपीएफ़ मै आपका पैसा लंबे टाइम तक रहता है और ये आप बीच मै निकाल नहीं सकते।

5. पीपीएफ़ मै सरकार फिक्स ब्याज दरे नहीं रखती, हर तीन महीने मै ब्याज दरे की समीक्षा करके कम ज्यादा की जाती है।

6. पीपीएफ़ मै आप हर साल 1.5 लाख के ऊपर निवेश नहीं कर सकते।

7. आपको इंकम टैक्स मै 80C के अंडर छूट दी गई है, लेकिन इसमे और कही ऑप्शन उपलब्ध है, इसके कारण पीपीएफ़ निवेश मै टैक्स मै पूरी छूट नहीं ली जाती।

8. आपका अकाउंट सुरू रखने के लिए हर साल आपको कम से कम 500 रूपये जमा करने ही पड़ते है, नहीं तो आपको पेनेल्टी लगती है।

PPF vs ELSS: कोनसा बेहतर है निवेश करने के लिए 

आज हम पीपीएफ़ और ELSS म्यूचुअल फ़ंड के बारे मै जान लेते है, पीपीएफ़ और ईएलएसएस मैंने इसलिए लिया है की ये दोनों आपको इंकम टैक्स मै 80C के अंडर 1.5 लाख रुपए तक की छूट देते है।

PPF (पीपीएफ़)

पीपीएफ़ यानी पब्लिक प्रोविडेंट फ़ंड जो की भारत सरकार ध्वारे इसकी सुरवात की गई है, ये स्कीम आपको हर साल 1.5 लाख रुपए तक निवेश करने की सुविषा देती है।

पीपीएफ़ मै आपको गवर्नमेंट के ध्वारा फ़िक्स्ड रिटर्न दिये जाते है, आज टाइम पीपीएफ़ मै आपको 7.1% का रिटर्न सालाना दिया जाता है।

पीपीएफ़ मै आप 15 साल तक निवेश करना पड़ता है, और आप 80C अंडर 1.5 लाख रुपए तक की छूट ले सकते है।

15 साल के बाद जब आपका अकाउंट mature होता है, तब आपको निवेश और इंटरेस्ट रेट पे कोई भी टैक्स गवर्नमेंट को देनी की जरूरत नहीं है। पीपीएफ़ मै आपका पूरा टैक्स फ्री पैसा मिलता है। 

ELSS (ईएलएसएस) 

ELSS ये एक म्यूचुअल फ़ंड मै वन टाइम या एसआईपी के जरिये निवेश करने की स्कीम है, जो अलग अलग म्यूचुअल फ़ंड ध्वारे चलायी जाती है।

ELSS म्यूचुअल फ़ंड मै आपको  निवेश किए हुये पैसे को 3 साल तक लॉक इन पीरियड रहता है।

इसमे आप कितने भी पैसे को निवेश कर सकते है, और आपको 80C के तहत आप 1.5 लाख की छूट ELSS फ़ंड मै ले सकते है।

ELSS फ़ंड मै आपको कोई भी फ़िक्स्ड रिटर्न दिये नहीं जाते, लेकिन पिछले 10 सालो मै ELSS म्यूचुअल फ़ंड ने 15% तक रिटर्न दिये है।

ELSS फ़ंड मै आप 3 साल का लॉक इन पीरियड खतम होने के बाद, आप चाहे तो पैसे को निकाल सकते है। 

ELSS म्यूचुअल फ़ंड मै आप पैसे को निकलते है तो आपको 10% LTCG: Long Term Capital Gain Tax  मिले हुये रिटर्न 1 लाख के ऊपर हो तो देना पड़ता है। 

PPF vs ELSS Comparison

कर्मांक विवरण PPF ELSS
1. कितने रुपए निवेश कर सकते है 1.5 लाख निवेश करने की कोई सीमा नहीं है।
2. सालाना कितना रिटर्न मिलता है। 7.1% पिछले 10 सालो मै 15% तक का रिटर्न मिला है।
3. इंकम टैक्स मै छूट 1.5 लाख तक की छूट ले सकते है 1.5 लाख तक की छूट ले सकते है
4. लॉक इन पीरियड 15 साल 3 साल
5. हर साल 1.5 लाख निवेश करने पर रिटर्न 40.64 लाख 82 लाख 15% के हिसाब से

62 लाख 12% के हिसाब से

6. मेचूरिटि के टाइम टैक्स मै छूट पूरी रक्कम टैक्स फ्री मिलती है 10% LTCG देना पड़ता है।
7. हर साल 1.5 लाख निवेश करने पर, टैक्स को  कर के मिलने वाले रिटर्न 40.64 लाख 76.15 लाख  15% के हिसाब से

58.15 लाख  12% के हिसाब से

ऊपर हमने PPF और ELSS म्यूचुअल फ़ंड का चार्ट से Comparison देने की कोशिश की है, और इसने आप किसमे निवेश करना है जान सकते है। ELSS मै आपको मार्केट के हिसाबसे रिटर्न मिलते है, इसकी कोई गौरंटी नहीं है की आपको आने वाले टाइम मै यही रिटर्न मिलंगे। ये रिटर्न कम भी हो सकते है और ज्यादा भी रहा सकते है।

पीपीएफ अकाउंट कौन खोल सकता है।

पब्लिक प्रोविडेंट फ़ंड यानी की पीपीएफ़ इसका अकाउंट भारत का हर कोई नागरिक खुलवा सकता है। अपने माता पिता बच्चे का भी अकाउंट पीपीएफ़ मै ओपेन कर सकते है।

पीपीएफ अकाउंट कितने साल का होता है।

पीपीएफ़ मै अपने अकाउंट आज ओपेन किया तो इसमे आपको 15 साल तक निवेश करना पड़ता है, यानी की आपका पीपीएफ़ का अकाउंट 15 साल का रहता है। 5 साल के बाद आप एमर्जन्सि मै बंद कर सकते है।

पीपीएफ अकाउंट में कितना ब्याज मिलता है।

पीपीएफ़ मै अभी जुलाई से सितंबर के टाइम मै गवर्नमेंट ने 7.1% का व्याज देने की घोषणा की है, ये ब्याज दरे हर 3 महीने के बाद बदली जा सकती है।

पीपीएफ अकाउंट कैसे खोला जाता है।

ऊपर हमने पीपीएफ़ के अकाउंट के बारे मै जानकारी दी है, पीपीएफ़ का अकाउंट आपको खुलवाना है तो आप पोस्ट ऑफिस या ऊपर दी गई राष्ट्रीय बैंक मै जाकर पीपीएफ़ का अकाउंट खुलवा सकते है। आप ऑनलाइन बैंकिंग का उपयोग करते है तो आप घर बैठे पीपीएफ़ का अकाउंट ओपेन कर सकते है।

पोस्ट ऑफिस में पीपीएफ अकाउंट कैसे खोलें।

पोस्ट ऑफिस मै पीपीएफ़ का अकाउंट खुलवाने के लिए आप अपने पास के पोस्ट ऑफिस मै जाके पीपीएफ़ का अकाउंट खुलवा सकते है, इसके लिए आप को आधार कार्ड, पैन कार्ड, फोटो, लगेंगे।

पीपीएफ में 15 साल बाद कितना पैसा मिलता है।

पीपीएफ़ मै आप किस तरह पैसा जमा करते है उसके हिसाबसे आपको रिटर्न मिलता है, आज के टाइम पीपीएफ़ मै आप 1.5 लाख रुपये तक पैसे सालाना जमा कर सकते है। इतने है पैसे आप 15 साल तक पीपीएफ़ मै जमा करते है तो आपको 15 साल के बाद 42 लाख रूपये तक का रिटर्न मिल सकता है।

क्या हम 5 साल से पहले पीपीएफ से पैसे निकाल सकते हैं।

पीपीएफ़ का अकाउंट सुरू करने के बाद आपको सरकार 5 साल के बाद एमर्जन्सि मै अकाउंट मै से पैसे निकलेने की अनुमती देती है, इसके पहिले आप पीपीएफ़ मै पैसे निकाल नहीं सकते।

क्या मैं 10 साल बाद पीपीएफ से पैसे निकाल सकता हूं।

10 साल के बाद आपको पीपीएफ़ मै कई करनवर्ष मै ही पैसे निकाल सकते है, ये भी आप पूरा पैसा नहीं निकलेगा।

मैं अपना पीपीएफ खाता कब बंद कर सकता हूं।

पीपीएफ़ मै अपना खाता आप 15 साल के बाद बंद कर सकते है, और आपको आगे उसकी अवधी बढ़ाना है तो आप 5-5 साल के लिए बढ़ा सकते है।

पीपीएफ अकाउंट में साल में कितनी बार पैसा जमा कर सकते हैं।

पीपीएफ़ अकाउंट मै साल मे पैसे जमा करने की कोही निर्बंध नहीं, आप कितनी भार भी इसमे पैसे को जमा कर सकते है, लेकिन आप 1.5 लाख रूपये के ऊपर पीपीएफ़ मै पैसे को जमा नहीं कर सकते।

पीपीएफ अकाउंट कैलकुलेटर

पीपीएफ़ ये एक ऐसी स्कीम है जो आपको 15 साल के बाद एक अच्छी राशी दे सकती है, जो आप अपने बच्चे की पढ़ाई, शादी, घर बँधवाने ने के लिए काम आ सकती है। 

पीपीएफ़ मै आप कैल्कुलेटर की मदत से ये पता कर सकते है की आप कितने रूपये जमा करने पर आपको कितना पैसा 15 साल के बाद मिल सकता है।

पीपीएफ अकाउंट के बारे में जानकारी ( PPF Account ke bare Mein Jankari)

ऊपर हमने पीपीएफ अकाउंट के बारे में जानकारी ( PPF Account ke bare Mein Jankari) जेने की पुरू कोशिश की है, इसमे हमे पीपीएफ़ क्या है, इसका अकाउंट किस तरह ओपेन किया जा सकता है, इसके फायदे और नुकसान, यादी।

आप ये जानकारी पढ़के इसमे आपको निवेश करना है या नहीं ये अपना कुध डिसिशन ले सकते है।

आपको और पीपीएफ़ के बारे मै जानकारी चाहिए तो हमे commend बॉक्स मै पुच सकते है। धन्यवाद !

ये भी पढ़िये

About The Author

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top