टॉप 15 शेयर बाजार के गोल्डेन नियम | What is mean by Stock Market Hindi

शेयर बाजार के गोल्डेन नियम: शेयर मार्केट ये एक ऐसा कूहा है, जहा पर आप तैर भी सकते है, और तैरना नहीं आया तो डूब भी सकते है। मतलब की आपको शेयर मार्केट मै जानकारी है तो आप करोड़ो रूपये कमा सकते है, नहीं तो आप अपना पैसा डूबा सकते है।

शेयर मार्केट मै उतारने से पहिले आपको इसके बारे मै पूरी जानकारी होनी चाहिए, शेयर मार्केट क्या है, कैसे काम करता है, शेयर मार्केट मै ट्रेडिंग कैसे की जाती है।

360 जानकारी इस साइट पर आपको ऐसे है, इनवेस्टमेंट रेलटेड जानकारी दी जाती है। आज हम टॉप 15 शेयर बाजार के गोल्डेन नियम क्या है, और इसका पालन आप करते है तो शेयर मार्केट मै आप लॉस से बच सकते है। 

 शेयर बाजार के गोल्डेन नियम

Table of Contents

शेयर मार्केट क्या है? (What is mean by Stock Market Hindi)

शेयर मार्केट ये एक ऐसी जगह है, जहा पर 6 हजार से भी ज्यादा कंपनी लिस्टेड है। ये कंपनी NSE और BSE के तहत स्टॉक एक्स्चेंज पर लिस्टेड है।

भारत मै मुख्य तौर पर दो स्टॉक एक्स्चेंज काम करते है, पहिला BSE: बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज और दूसरा NSE: नेशनल स्टॉक एक्सचेंज। इन कंपनी मै आप अपने शेयर को खरीद और बेच सकते है।

शेयर मार्केट मै नियम बनाये रखे, कोई भी दोखा धड़ी ना हो इसलिए SEBI काम करती है। इसकी सुरवात 1992 मै हुई थी, और इसका मुख्यालय मुंबई मै स्थित है।

टॉप 15 शेयर बाजार के गोल्डेन नियम (Stock Market Golden Rules)

शेयर मार्केट आपको बहुत सारा पैसा कमाके दे सकता है, जब आप कुछ नियम का पालन करके निवेश करते है, तो एक दिन मै करोड़ो रुपए कमाने का सपना देख सकते है।

शेयर मार्केट मै आप लंबे समय, टाइम देके कुछ सीखके निवेश करते है, तो आपको आने वाले दिन मै मार्केट आपको पैसे बनाके जरूर देगा।

तो नीचे हम शेयर बाजार के गोल्डेन नियम क्या है, और इसका पालन हम करते है, तो हमको कभी भी लॉस नहीं होगा।

1. सही ब्रोकर को चुने।

आज शेयर मार्केट मै बहुत सारे ब्रोकर है, जो आपको फ्री मै डिमेट अकाउंट ओपेन करके देते है। लेकिन कुछ ऐसे भी ब्रोकर है, जो लोगो से अकाउंट ओपेनिंग की फी भी लेते है, साथ ही उनका हर साल कुछ अकाउंट मेंटेनेंस चार्जेस भी रहता है। 

जो ब्रोकर आपको कम ब्रोकरेज और उनके सेकुरिटी अच्छी है, वही ब्रोकर के पास आपको अकाउंट खुलवाना होगा। 

2. दूसरों के टिप सुनके निवेश ना करे।

शेयर मार्केट मै आपको बहुत सारे लोग है, जोकि टिप देके निवेश करने के लिए बोल देते है। शेयर मार्केट मै आपको टीवी चैनल, अखबार, टेलेग्राम, Instagram, Facebook,  यूट्यूब ऐसे सोशल मीडिया पर आपको टिप मिलती रहती है।

कुछ लोग तो अपने प्रॉफ़िट को दिखाके टेलेग्राम पर पैसे लेके लोगो को टिप देते है, ऐसे लोगो पर सेबी सख्त कारवाई कर रही है।

मार्केट मै और एक scam चल रहा है, जोकि लोगो की penny स्टॉक 1 से 5 रुपए तक खरीदवाने का, ये स्टॉक आने वाले दिन मै 1 से 50 रुपए तक जायगा खरीद लो। जो लोग ये टॉक आपको बताते है, उनके पास खुद रहता है, और लोगो से खरीदवाके उस स्टॉक की कीमत ऊपर लेके जाते है, और बाद मै उस स्टॉक से ये लोग बेचके बाहर निकलते है।

3. मार्केट के बारे मै जाने, सीखे और निवेश करे।

शेयर मार्केट मै आपको निवेश करना है, तो उसके बारे मै सीखना जरूरी है। शेयर मार्केट को सीखने के लिए फंडामैंटल एनालिसिस और टेक्निकल एनालिसिस के बारे मै पता होना चाहिए।

  • फंडामैंटल एनालिसिस: फंडामैंटल एनालिसिस मै आपको कंपनी के बारे मै, उसका प्रॉफ़िट कितना है, कंपनी के ऊपर कर्जा कितना है, कंपनी का कॅश फलो, रिटर्न ऑन इक्विटि, P/E Ratio, ROE, FII, DII ये सब आपको देखने को मिलता है।
  • टेक्निकल एनालिसिस: टेक्निकल एनालिसिस मै आपको चार्ट पैटर्न, इंडिकेटर, मुविंग एव्रेज इन सब के बारे मै जानकारी मिलती है।

मार्केट मै निवेश करने से पहिले आप टेक्निकल और फंडामैंटल एनालिसिस के बारे मै सीखते है, तो आप अपना स्टॉक खुद खरीद के खुद बेच सकते है।

जिस कंपनी मै आपको निवेश करना है, उस कंपनी की आपको बैलेन्स शीट पढ़ना आणी चाहिए, उसका बिज़नस मोडेल क्या है, इसके बारे मै पता होना चाहिए, तभी आप शेयर बाजार मै निवेश कर सकते है।

4. लंबे समय के लिए निवेश करे।

शेयर मार्केट मै निवेश करना है, तो आपको लंबे समय तक निवेश करना होगा, आज मार्केट मै ऐसी कंपनी है, जो आपको 15-20 साल मै 20-25 गुना रिटर्न दिया है।

इसमे MRF, रिलायंस जैसे कंपनी शामिल है। आपको इसी तरह की कंपनी को ढूँढना होगा, जोकि आने वाले 15-20 साल मै 20-25 गुना रिटर्न दे सके।

कम समय के लिए आप मार्केट मै निवेश करते है, तो आपको लॉस देखने को मिल सकता है, मार्केट ऊपर नीचे होने की वजह से कम समय मै अच्छे स्टॉक मै भी आपको लॉस दिख सकता है।

5. सही स्टॉक चुनके पैसे लगाये।

भारत मै मुख्य तौर पर दो स्टॉक एक्स्चेंज काम करते है, एक NSE और BSE। आज के टाइम मै NSE और BSE मै 6000 से ज्यादा कंपनी लिसटेड है।

इस कंपनी मै से आपको अच्छे स्टॉक को निकाल के निवेश करना है। स्टॉक को खोजने के लिए आप फंडामैंटल एनालिसिस, टेक्निकल एनालिसिस का उपयोग कर सकते है।

6. स्टॉप लॉस लगाके ट्रेड करे।

शेयर मार्केट मै लॉस होता नहीं ऐसा बिलकुल नहीं हो सकता, आप 10 अच्छे स्टॉक भी लेते है, तो उसमे आपके 2-3 स्टॉक लॉस मै जा सकते है।

शेयर मार्केट मै आपको हमेशा लॉस को कम करना है, इसिलिए आपको स्टॉप लॉस लगाना जरूरी है।

टेक्निकल एनालिसिस का इस्थमाल करके आप स्टॉप लॉस लगा सकते है। और अपने लॉस को कम कर सकते है।

7. अपना पोर्टफोलियो डायवर्सिफाइड रखे।

शेयर मार्केट मै आप 1 लाख रुपये निवेश करने जा रहे है, तो वही 1 लाख रुपए एक ही स्टॉक मै निवेश न करे। आपको अपने पोर्टफोलियो मै 5-10 स्टॉक होने जरूरी है।

जीतने भी स्टॉक आप खरीद करोगे ये अलग अलग सैक्टर के होने चाहिए, जोकि अपने लॉस को रिकवर कर सके। इस तरह अपना पोर्टफोलियो डायवर्सिफाइड होना चाहिए।

8. रिस्क मैनेजमेंट

रिस्क मैनेजमेंट यानी की जब आप किसी कंपनी मै निवेश करने जा रहे है, तो उसमे आपको कितना फायदा और कितना लॉस हो सकता है, इसके बारे मै समजना होगा। 

आपको रिस्क ratio 1:1 या उसके ऊपर होना चाहिए, आपको ऐसे स्टॉक मै निवेश करना चाहिए जिसमे नुकसान कम हो और फायदा ज्यादा हो।  

9. ऑप्शन ट्रेडिंग, इंट्राडे ट्रेडिंग से दूर रहे।

शेयर मार्केट मै ऑप्शन ट्रेडिंग, इंट्राडे ट्रेडिंग करके एक दिन मै आप लाखो रुपए कमा सकते है। इस वजह से जो नए ट्रैडर है, इस ऑप्शन के जरिये स्टॉक मार्केट मै निवेश करते है। 

सेबी के नुसार 90% ऑप्शन ट्रैडर ऑप्शन ट्रेडिंग मै लॉस करते है, और इंट्राडे ट्रेडिंग मै 10 मे 9 ट्रैडर लॉस मै है। 

मार्च तक का डाटा आया था, इसमे 40-50 लाख लोगो ने अपने डिमेट अकाउंट को बंद करवाया, बाद मै पता चला की ये लोग ऑप्शन ट्रेडिंग के जरिये अपने करोड़ो रुपए शेयर मार्केट मै गवा चुके है। 

शेयर मार्केट मै ऑप्शन ट्रेडिंग और इंट्राडे करके आपको बड़ा लॉस हो सकता है, क्योंकि इसमे बहुत ही रिस्क है। जो नए ट्रैडर है, और उनको शेयर मार्केट मै ज्यादा जानकारी नहीं है, ये लोग ऑप्शन और इंट्राडे से दूर रहे। 

10. खुद को कंट्रोल मै रखे।

शेयर मार्केट मै हर एक शेयर के पीछे आपको प्रॉफ़िट ही होता है ऐसा नहीं है। आपको लॉस भी हो सकता है, और लॉस होने के बाद खुद को कंट्रोल मै रखने की जरूरत है। 

जब आप किसी स्टॉक मै निवेश करते है, और आपको लॉस होता है, तो उस लॉस को भरने के लिए आप हड़बड़ी मै और कोई स्टॉक खरीदके और ज्यादा लॉस मै जाते है। 

इसिलिए जब आप शेयर को खरीदते है, तो स्टॉप लॉस होना जरूरी है, और लॉस हो गया तो आपको सकी मौके का वेट करके शेयर मै ख़रीदारी करनी है। 

11. मार्केट ट्रेंड को ध्यान मै रखके निवेश करे।

शेयर मार्केट मै हम जैसे रीटेल निवेशक जब मार्केट हाइ लेवेल पर रहता है, उसी समय शेयर मार्केट मै निवेश करते है, और जब मार्केट डाउन रहता है, तो अपना लॉस बूक करके शेयर मार्केट से बाहर निकलते है। 

शेयर मार्केट मै निवेश करने के लिए आपको मार्केट का ट्रेंड ध्यान मै रखने की जरूरत है, जब मार्केट डाउन रहता है, तो हमे निवेश करने के लिए हवी होना चाहिए, और जब मार्केट ऊपर रहता है, तो अपना प्रॉफ़िट को बूक करने की जरूरत है। 

इस ट्रेंड को आप फॉलो करोगे तो शेयर मार्केट मै अच्छा खासा रिटर्न कमा सकते है। 

12. कंपनी का शेयर खरीद करने से पहिले उनका बिज़नस को समजे।

आप किसी कंपनी मै लंबे अवधी के लिए निवेश करने जा रहे है, तो उस कंपनी के बिज़नस को समजने की जरूरत है। क्योंकि जिस सैक्टर मै कंपनी अपना कारोबार कर रही है, उस सैक्टर के प्रॉडक्ट को मार्केट मै किस तरह मांग है उसे देखना होगा। 

इसके बाद आपको उस कंपनी के शेयरखरीद करने होगे। आप इसी तरह निवेश करते गए, तो आप एक अच्छे ट्रैडर बनोगे और आने वाले दिन मै आपको कम लॉस होगा। 

13. लोन और उधार लेके निवेश ना करे।

शेयर मार्केट मै आप निवेश करते है, तो आपके जीतने भी जरूरत के पैसे है, उसे साइड मै रखके निवेश करना चाहिए। किसीसे लोन लेके, पैसे उधार लेके, अपने काम के पैसे मार्केट मै डालके निवेश करने से बचना चाहिए। 

आपके पास जीतने भी सविंग मै पैसे है, और ये पैसे आपको 1 साल तक काम आने वाले नहीं है, वही पैसे से आप शेयर मार्केट मै निवेश करे। 

कई कारनवर्ष मार्केट एकदम डाउन हो गया तो, मार्केट रिकवर होने के लिए आपको टाइम लग सकता है, और उसी टाइम आपको लॉस बूक करके दूसरों के पैसे चुकाने पड़ सकते है। 

14. निवेश किए हुये स्टॉक पर नजर बनाये रखे।

जब आप किसी कंपनी के शेयर खरीदते है, तो उसके ऊपर आपको नजर बनाई रखनी चाहिए। टेक्निकल एनालिसिस आपको अच्छे कंपनी के स्टॉक कब खरीदना है, और कब बेचना है, इसके लिए मदत करेगा। 

15. म्यूचुअल फ़ंड मै निवेश करे। 

जब आपको शेयर मार्केट मै कोई जानकारी नहीं है, और आपको जानकरी है, लेकिन निवेश किए हुये स्टॉक को ट्रक नहीं कर पाते, उनके लिए म्यूचुअल फ़ंड के जरिये एसआईपी ये एक अच्छा ऑप्शन है। 

म्यूचुअल फ़ंड मै एक एक्टिव फ़ंड मैनेजर रहता है, जोकि मार्केट मै अच्छे स्टॉक को निकाल के उसमे निवेश करता है। आप हर महीने SIP करते है, तो आपका पैसा मार्केट ऊपर नीचे से बैलेन्स रहता है। 

एक अच्छे म्यूचुअल फ़ंड नै लंबे समय मै आपको 12-15% तक के रिटर्न अभी तक दिये है। 

टॉप 15 शेयर बाजार के गोल्डेन नियम

टॉप 15 शेयर बाजार के गोल्डेन नियम कोनसे है, इसके बारे मै हमने आपको विस्तार से जानकारी दी है, इस नियम को पढ़ने के बाद आप इसी तरह कम करते है तो आपको कम लॉस देखने को मिल सकता है। 

360 जानकारी इस साइट पर आपको ऐसे है, इनवेस्टमेंट रेलटेड जानकारी दी जाती है। और अधिक जानकारी आपको चाहिए तो हमे नीचे संपर्क कर सकते है। 

धन्यवाद !

About The Author

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top